महिलाओं, बालिकाओं व बच्चों की सुरक्षा, सम्मान व स्वालंबन के प्रति जागरूक करने के लिए ‘मिशन शक्ति’ का शुभारंभ

हाथरस । महिलाओं, बालिकाओं व बच्चों को खुद की सुरक्षा, सम्मान व स्वालंबन के प्रति जागरूक करने के लिए विशेष अभियान ‘मिशन शक्ति’ का शुभारंभ करते हुये जपनद की नोडल अधिकारी/अपर मुख्य अधिकारी नोएडा विकास प्राधिकरण नेहा शर्मा (आईएएस), जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार तथा मा0 विधायक सदर हरिशंकर माहौर, ने सयुक्त रूप से कलेक्ट्रेट परिसर से एलईडी प्रचार वाहन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया तथा इसके उपरान्त नोडल अधिकारी ने कलेक्ट्रेट सभागार में ‘मिशन शक्ति’ कार्यक्रम के आयोजन पर चर्चा करते हुये आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
नोडल अधिकारी द्वारा अन्तर्विभागीय बैठक के दौरान तैयार की गयी कार्ययोजना की समीक्षा की। उक्त बैठक में महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलम्बन को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से कार्ययोजना के अनुसार कार्यक्रम किये जाने तथा पी0सी0पी0एन0डी0टी0 कानून के विषय में जागरूकता बढ़ाने तथा मिशन शक्ति कार्यक्रम से जोडने पर बल दिया। बच्चों के विरूद्ध हिंसा से रोकथाम हेतु प्रत्येक थाने पर तैनात बाल सुरक्षा अधिकारियों को बच्चों व महिलाओं से सम्बन्धित समस्त कानूनों की जानकारी देने के लिये निर्देश दिया। एण्टी रोमियों स्क्वाॅड के अभियान को सत्त चलाते रहने के लिये कहा, साथ ही महिलाओं की समस्याओं का संवेदनशीलता के साथ निराकरण करने के लिये महिला हेल्प डेस्क की स्थापना करने के लिये कहा। मिशन शक्ति के सफल संचालन के उपरान्त अभियान से जुडी 100 महिलाओं को विभिन्न क्षेत्रों में उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन हेतु सम्मानित किये जाने के लिये निर्देशित किया। ब्लाॅक स्तर पर आशा व आंगनवाडियों के माध्यम से अधिक-से-अधिक जनमानष को जागरूक करने के लिये कहा।
मा0 विधायक सदर हरिशंकर माहौर ने कहा कि हमार सरकार द्वारा महिलाओं के लिये बहुत सी योजनाएं चलायी जा रही है। हमारी सरकार का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करना पहली प्राथमिकता है। उन्होने अधिकारियों को सभी सरकारी योजनाओं का अधिकतम प्रचार-प्रसार कर महिलाओं को लाभान्वित किये जाने के लिये प्रेरित किया।
जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने कहा कि बच्चों के विरूद्ध अधिकतर अपराध निकटतम सम्बन्धियों द्वारा ही किये जाते हैं। अतः विद्यालयों के माध्यम से बच्चों को जागरूक किया जा रहा है तथा पोक्सो के सम्बन्ध में विभिन्न विभागों से बैठक भी की गयी है। उन्होने कहा कि यह अभियान 25 अक्तूबर तक चलेगा। आगामी अप्रैल तक हर महीने यह अभियान एक-एक सप्ताह के लिए चलाया जाएगा। हर सप्ताह आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के लिए तिथिवार थीम निर्धारित की गई है। महिला कल्याण, बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग की ओर से संयुक्त रूप से इस अभियान को चलाया जाएगा।
जिला प्रोबेशन अधिकारी, हाथरस द्वारा बताया गया कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजनान्तर्गत जन जागरूकता हेतु पपेट शो तथा मैजिक शो का आयोजन पूरे जनपद के ग्रामीण अंचलों में किया जायेगा, जिससे धरातल स्थल पर योजना का प्रचार-प्रसार किया जा सके तथा उक्त से सम्बन्धित एक शो सभागार कक्ष समस्त अधिकारियों के समक्ष दिखाया गया। बैठक के उपरान्त नोडल अधिकारी द्वारा वन स्टाप सेन्टर एवं उसके निर्माणाधीन भवन तहसील परिसर तथा शाम को महिला थाना हाथरस का निरीक्षण किया गया और महिलाओं की सुरक्षा से सम्बन्धित आवश्यक निर्देश दिये गये।
इस मुख्य विकास अधिकारी आर0बी0 भास्कर, अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 जे0पी0 सिंह, जिला कृषि अधिकारी डिपिन कुमार, जिला पंचायत राज अधिकारी बनवारी सिंह, जिला द्विव्यांग जन सशक्तिकरण अधिकारी प्रतिभापाल, श्रम प्रवर्तन अधिकारी, समस्त सीडीपीओं, आगनवाड़ी कार्यकत्री तथा अन्य सम्बन्धित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

You may have missed

error: Content is protected !!